हिंदू बूचड़खानों के मालिक मुस्लिम नाम रखकर धड़ल्ले से कर हैं बीफ कारोबार


Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद प्रदेश में अवैध बूचड़खानों को बंद किया जा रहा है। बुचड़खानों का नाम आते ही दिमाग में एक खास समुदाय उभर आता है। हमारी ऐसी मानसिकता बना दी गई है कि स्लॉटरहाउस सिर्फ खास मजहब के होते हैं और उसी मजहब के लोग काम करते है। अगर कोई यह कहे कई बूचड़खाने हिंदुओं के हैं तो इस बात पर शायद ही कोई हिंदू विश्वास करेगा।

भारत सरकार की कमर्शियल मिनिस्ट्री की संस्था, कृषि और प्रसंस्करण खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (अपेडा) की मंजूरी पर देश में 74 बड़े बूचड़खानों चल रहे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी इन 74 बड़े स्लॉटरहाउसेस में 10 बूचड़खाने ऐसे हैं जिनके मालिक हिंदू हैं। जहां पर जानवरों के काटने का काम धड़ल्ले से किया जाता है, इस बात पर कोई हिंदू विश्वास नहीं करेगा। इन बूचड़खानों की पुष्टि बीबीसी ने अपनी पड़ताल में की है।

सबसे खास बात यह है हिंदू बूचड़खानों के मालिको ने हिंदू समाज में अपनी छवि बनाए रखने के लिए इनका नाम मुस्लिम शब्दों के आधार पर रखा है। बीबीसी ने अपनी रिपोर्ट में इन हिंदू मालिकों वाले बुचड़खानों के एक-एक नाम अपनी रिपोर्ट में बताए हैं।

देश का सबसे बड़ा बूचड़खाना अल कबीर है। ये तेलंगाना के मेडक जिले के रूद्रम गांव में है। इसके मालिक सतीश सब्बरवाल हैं, यह बूचड़खाना अल कबीर एक्स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड चलाता है। मुंबई के नरीमन प्वॉइंट में अल कबीर का मुख्यालय से मध्य पूर्व के कई देशों में बीफ का निर्यात किया जाता है। मध्य-पूर्व के कई शहरों में इसके दफ़्तर हैं। अल कबीर के कार्यालय दुबई, अबू धाबी, क़ुवैत, जेद्दा, दम्मम, मदीना, रियाद, खरमिश, सित्रा, मस्कट और दोहा में हैं। अल कबीर मध्य पूर्व के चेयरमैन सुरेश सब्बरवाल का कहना है कि “धर्म और व्यवसाय दो बिल्कुल अलग-अलग चीजें हैं और दोनों को एक दूसरे से मिला कर नहीं देखा जाना चाहिए. कोई हिंदू बीफ़ व्यवसाय में रहे या मुसलमान ब्याज पर पैसे देने के व्यवसाय में रहे तो क्या हर्ज़ है?”

अरेबियन एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लमिटेड बूचड़खाने के मालिक सुनील कपूर हैं। इसका मुख्यालय मुंबई है। कंपनी बीफ़ के अलावा दूसरे जानवरों के मांस का भी निर्यात करती है। इसके निदेशक मंडल में विरनत नागनाथ कुडमुले, विकास मारुति शिंदे और अशोक नारंग जैसे हिंदू बिरादरी के लोग हैं।

एमकेआर फ़्रोज़न फ़ूड एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड बूचड़खाने के मालिक मदन एबट हैं। कंपनी का मुख्यालय दिल्ली में है। एबट कोल्ड स्टोरेजेज़ प्राइवेट लिमिटेड का बूचड़खाना पंजाब के मोहाली जिले के समगौली गांव में है।

पूरी खबर पढने के लिए अगले पेज पर जाए….


Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.


log in

reset password

Back to
log in